गब्बर : - अरे ओ सांभा कितने आदमी थे? सांभा : - अकेला ही Kahani Hansi Majak

0
Kahani Hansi Majak - गब्बर : - अरे ओ सांभा कितने आदमी थे?

सांभा : - अकेला ही था

गब्बर : - और तुम

सांभा : - सरदार, हम 10 थे

गब्बर : - वो अकेला और तुम 10 फिर भी मार खाकर आ गए

सांभा : - वो सब से अलग था

गब्बर : - मुझे उसकी पहचान बताओ

सांभा  :- सरदार उसके गले में रूद्राक्ष की माला, सिर पर सब्जी की टोकरी और गमछा  पहने हुए था

गब्बर :- ओ तेरी कि,
तुमने मेरा नाम तो नहीं बताया होगा ना

सांभा :-  नहीं सरदार, मगर आप इतना चौंक क्यूँ गए

गब्बर :- अरे यहाँ से जल्दी भागो सालो ..😳

सांभा :- मगर क्यूँ सरदार

गब्बर :- अरे भागो .. तुमने कोइरी को छेड़ दिया है

सांभा :-  मगर *कोइरी* क्या होते हैं

गब्बर :-
अरे *कोइरी* कोई कौम नहीं है और ना ही कोई यूनियन।
*कोइरी* खुद एक काल है , वेद है , शास्त्र है , समय है और एक अमिट अपार शक्ति है ..चंद्र गुप्ता के अंश से पैदा हुई उर्जा का अंश है कोइरी..

सांभा :- सरदार वो शुरूआत में तो हाथ जोड़ रहा था मगर जब हमने जबरदस्ती लूटने की कोशिश कि तो उसने हमारा ये हाल कर दिया ..
वो शक्ल से बहुत ही शांत और साधारण लग रहा था

गब्बर :- अरे क्रांति हमेशा वो ही लाते हैं जो शांति प्रिय होते हैं..
यूँ धूल तो झूंड भी उठाते हैं

😳😳😳😳😳Kahani Hansi Majak


ये वो मानव जाति है जो युद्ध में चलते हुए रथ का पहिया बदल देते हैं ..
इनके पास जन्म से ही अस्त्र शस्त्र  ज्ञान का योग होता है जो पृथ्वी पर और किसी भी मानव जाति में नहीं होता..
इनके बिना तो देवालय भी अशुद्ध माने जाते हैं ..
इनके अंदर त्रिदेव शक्ति विद्यमान है ..

1. ब्रह्मा जी का ब्रह्म ज्ञान
2. विष्णु जी का स्तुतीकरण
3. शिव जी का अमिट प्रभान

देवों का भी सबसेप्रिय मानव *कोइरी* ही है
क्योंकि ये हर क्षेत्र में निपुण हैं;
वो चाहे अस्त्र शस्त्र हो,
काल वैदिक शास्त्र हो
या भौतिक जगत ज्ञान हो

इस पृथ्वी पर वर्तमान में 42 करोड़ 43 लाख *कोइरी* हैं;
अगर पृथ्वी के एक कोने पर मिलकर खड़े हो गए तो पृथ्वी को एक तरफ झुका सकते हैं ...

सबसे ज्यादा *कोइरी* की जनसंख्या वाला देश ....
बलिया,
4 करोड़ 68 लाख

सबसे ज्यादा प्रतिशत *कोइरी* जनसंख्या वाला राज्य  ..राजस्थान ,
 50% *कोइरी* हैं

कोइरी के देश;
हिन्दुस्तान , नेपाल , श्री लंका , भूटान , तिब्बत , मयंमार ,  चीन , अफगानिस्तान , तुर्किस्तान
और

*कोइरी* के संस्कार सबसे अहम हैं,
*कोइरी* की शक्ति सबसे अमिट है,
*कोइरी* का सम्मान सबसे बड़ा सम्मान है

*कोइरी* ना राज के भूखे हैं,
*कोइरी* ना ताज के भूखे हैं,
*कोइरी* एक अमिट शक्ति है,
*कोइरी* सम्मान और संस्कार के भूखे होते हैं

विश्व *कोइरी* मंच
हर हर महादेव,
जय *कोइरी* संस्कार,
*जय* *कोइरी* ,
जय हिन्दुत्व राज

अगर *कोइरी* का अपमान किया तो समझ लो देवों का अपमान किया,
अगर *कोइरियों* को खुश रखोगे तो देव भी खुश रहेंगे।
हर हर महादेव।।

अगर *कोइरी* बंश से हैं तो शेयर करें;
इग्नोर तो जलने वाले भी कर देंगे😇😇😁😁😁😁

               🕉 हर हर महादेव 🕉 कोइरी साम्राज्य के बारे में इतना सुंदर लिखने वाले को शत शत नमन🙏🙏🙏🙏🙏🙏❤🇹🇯
Tags

Post a Comment

0Comments

Thanks for any suggestions or questions! We will reply to your message soon.

Post a Comment (0)

#buttons=(Accept !) #days=(60)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !